जादू की पुड़‍िया में आपका स्‍वागत है। चूंकि यहां जादू के बारे में ख़बरें 'कभी-भी' और 'कितनी भी' आ सकती हैं। और हो सकता है कि आप बार-बार ब्‍लॉग पर ना आ सकें। ऐसे में जादू की ख़बरें हासिल करने के लिए ई-मेल सदस्‍यता की मदद लें। ताकि 'बुलेटिन' मेल-बॉक्‍स पर ही आप तक पहुंच सके।

Wednesday, February 2, 2011

दबन और तिल्‍ला

टेलीविजन और रेडियो के side-effects.
हर जगह कुछ गाने लगातार बज रहे हैं।

और 'जादू'  ने ना जाने कैसे दो गाने सीख लिए हैं।

'दबन दबन दबन'

और

'तील्ला तील्‍ला तील्‍ला'
'जादू' इन गानों के इंट्रो म्‍यूजिक से
ही इन्‍‍हें पहचान लेता है।

कुछ चीज़ों पर आपका वश नहीं होता।

3 comments:

रंजन (Ranjan) said...

चिंता न कर.. साल भर में पूरा गाना गाने लगेगा.... सुनो इस साहेब को
http://www.youtube.com/watch?v=orcISK4i6jU

सागर नाहर said...

तील्ला-तील्ला!!
यह कौनसा गाना है भई, हमने तो आज तक नहीं सुना!!

yunus said...

सागर भाई ये गाना है 'शीला...शीला..शीला की जवानी'

Post a Comment